राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण कार्यक्रम, राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण कार्यक्रम के लाभ, राष्ट्रीय अंधता नियंत्रण कार्यक्रम, rashtriya aids niyantran karyakram, rashtriya aids niyantran karyakram ke labh, rashtriya andhata niyantran karyakram

Spread the love

 राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण कार्यक्रम, rashtriya aids niyantran karyakram

राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण कार्यक्रम
राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण कार्यक्रम

राजस्थान में कार्यक्रम का क्रियान्वयन राजस्थान राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण कार्यक्रम कंट्रोल सोसायटी के माध्यम से किया जा रहा है

नियमित टीकाकरण कार्यक्रम, राष्ट्रीय कुष्ठ रोग उन्मूलन कार्यक्रम (Niyamit tikakran karyakram, rashtriya kushth rog unmulan karyakram)

राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण कार्यक्रम के उद्देश्य

एड्स महामारी के प्रसार को रोकने एवं बढ़ती दर को कम करना । राजस्थान में नवीन संक्रमण दर में 40% कमी लाकर इस लक्ष्य को प्राप्त करना

राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण कार्यक्रम के पात्रता

एड्स संक्रमित सभी व्यक्ति

राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण कार्यक्रम के लाभ, rashtriya aids niyantran karyakram ke labh

योन रोग उपचार एवं नियंत्रण वैधानिक रूप से रक्त सुरक्षा अर्थात सकर्मक सहित रक्त की नियमित रक्त बैंकों में उपलब्धता एच.आई.वी./ ऐड्स संबंधित जानकारी, परामर्श एवं जांच की नि:शुल्क उपलब्ध एकीकृत परामर्श एवं जांच केंद्र के द्वारा ऐड्स के मरीजों को एंटी-रेट्रो-वायरल औषधियों नि:शुल्क वितरित ए.आर.टी केंद्र द्वारा। एच.आई.वी / एड्स पीड़ित व्यक्तियों को छुआछूत एवं भेदभाव से बचाने व इसके निवारण हेतु ‘स्टेट रिड्रेसल ग्रीवेंस कमेटी ‘ का गठन एवं पीड़ित व्यक्तियों का मुख्यधारा से जोड़ने का प्रयास सूचना , शिक्षा एवं संचार के माध्यम से कार्यक्रम के उद्देश्यों को प्राप्त करने का लक्ष्य


1.परिवार कल्याण (नसबंदी) कार्यक्रम (privar kalyan (nashbandi) karyakram)


2.राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन (NRHM), वित्तीय सहायता (rastraiy gramin suvasthy mishan, vitiy sahayta)

राष्ट्रीय अंधता नियंत्रण कार्यक्रम, rashtriya andhata niyantran karyakram

स्वच्छता मंत्रालय, भारत सरकार के सहयोग से यह राष्ट्रीय अंधता नियंत्रण कार्यक्रम चलाया जा रहा है जिसमें भारत सरकार द्वारा सामग्री ,औजार, उपकरण व स्वैच्छिक संगठनों को मोतियाबिंद ऑपरेशन हेतु अनुदान दिया जाता है राष्ट्रीय अंधता नियंत्रण कार्यक्रम का प्रमुख उद्देश्य राजस्थान में अन्यथा की स्थिति घटाकर 0.34% लाना है वर्तमान में राजस्थान में आद्रता की दर 1% हैं

ग्राम स्वास्थ्य योजना, जनसंख्या स्थायीकरण कार्यक्रम (garam suvasthy yojna, jansankhya ethayikarn karykarm)

राष्ट्रीय अंधता नियंत्रण कार्यक्रम के उद्देश्य

अंधता नियंत्रण हेतु स्वयंसेवी संस्थाओं की मदद लेकर ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाना जो स्वयंसेवी संस्थाएं राजकीय अस्पताल /स्टैटिक सेंटर पर नि:शुल्क मोतियाबिंद ऑपरेशन शिविर आयोजित करना चाहती हैं उन्हें मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा संबंधित अस्पताल या स्टेटिक सेंटर की मेडिकल रिलीफ सोसायटी के नाम से नेत्र कैंप की स्वीकृति देना

राष्ट्रीय अंधता नियंत्रण कार्यक्रम के पात्रता

मोतियाबिंद रोगी

राष्ट्रीय अंधता नियंत्रण कार्यक्रम के लाभ

प्रति मोतियाबिंद राशि 1 हजार रुपे का पूर्ण जिला अंधता निवारण समिति द्वारा मेडिकल रिलीप सोसायटी को रिकॉर्ड के एम.आई.एस एंट्री के पश्चात । स्वयंसेवी संस्था को प्रचार प्रसार के लिए 100 और मरीजों को लाने व ले जाने की व्यवस्था करने पर 175 प्रति मोतियाबिंद ऑपरेशन की दर से पर्याप्त हैं

1.सुरक्षित मातृत्व लाभ परियोजना (surkshit matratv labh priyojana)


2.वंदे मातरम योजना, विकल्प योजना, अर्बन (RCH-II) (vande matram yojana, vikalp yojana, arban(RCH-ll)


3.कलेवा योजना, सामूहिक विवाह अनुदान योजना (kaleva yojna, samuhik vivah anudan yojna)


Leave a Comment