जननी एक्सप्रेस योजना, मुख्यमंत्री शुभ लक्ष्मी योजना, janani express yojana, mukhyamantri shubh laxmi yojana

Spread the love

जननी एक्सप्रेस योजना, janani express yojana

जननी एक्सप्रेस योजना
जननी एक्सप्रेस योजना

2 अक्टूबर 2012 से राजस्थान में प्रसूता महिलाओं को सुरक्षित प्रसव एवं नवजात शिशु को स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने हेतु निकटतम राज्य के चिकित्सा केंद्र तक यथाशीघ्र पहुंचाने के लिए जननी एक्सप्रेस योजना बेस एंबुलेंस सुविधा उपलब्ध कराई गई है वर्तमान में राजस्थान में कुल 600 वाहन संचालित हैं

राजस्थानी साहित्य – रासौ, ख्यात, पद्मावत साहित्य, कान्हड़दे प्रबंध (rajasthani sahity – raso, khiyat, padhmavat sahity, kanhddev parbandh)

फारसी साहित्य, हुमायूँनामा साहित्य (pharasi sahity – humayunama sahity)

योजना के उद्देश्य :-

प्रसूताओं को सुरक्षित प्रसव हेतु निकटतम राज्य के चिकित्सा केंद्र तक यथाशीघ्र पहुंचाना नवजात शिशुओं को स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करवाने के लिए निकटतम राजकीय चिकित्सा केंद्र तक यथाशीघ्र पहुंचाना

योजना की पात्रता :-

चिन्हित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र/ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र क्षेत्र की महिलाएं सताए एवं 30 दिवस तक के नवजात बीमार शिशु

योजना के लाभ :-

रैफरल ट्रांसपोर्ट सुविधा जननी एक्सप्रेस एंबुलेंस द्वारा महिलाओं एवं 30 दिवस तक के नवजात शिशुओं को निकटतम राज्य के चिकित्सा केंद्र तक यथाशीघ्र पहुंचा कर, उन्हें स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करवाना।

ऐतिहासिक साहित्य पृथ्वीराज विजय (etihasik sahitye prthaviraj vijay)

मुख्यमंत्री शुभ लक्ष्मी योजना, mukhyamantri shubh laxmi yojana

राजस्थान में बालिका जन्म को प्रोत्साहन देने एवं मातृ व शिशु मृत्यु दर को कम करने हेतु प्रस्ताव को आर्थिक सहायता प्रदान की जाती हैं

सांस्कृतिक स्थापत्य एवं चित्रकला (sanskartik sthapatye avm chitrkala)

योजना के उद्देश्य :-

बालिका जन्म को प्रोत्साहन देकर प्रदेश में गिरते लिंगानुपात में संतुलन लाना एवं संस्थागत प्रसव को बढ़ावा देना

योजना की पात्रता :-

दिनांक 1 अप्रैल ,2013 या इसके बाद राजकीय अधिस्वीकृत ,चिकित्सा संस्थानों में संस्थागत प्रसव से बालिका के जीवित जन्म होने पर महिला को आर्थिक सहायता दे होगी बालिका की उम्र 1 वर्ष होने पर तथा उम्र अनुसार सभी आवश्यक टीके लगवाने पर बालिका के प्रथम जन्मदिवस पर महिला को आर्थिक लाभ दे होगा राशि 2100 की अतिरिक्त राशि और देय होगी या लाभ 1 अप्रैल 2014 से देय होगा इस लाभ को प्राप्त करने के लिए बालिका के टीकाकरण का कार्ड/ ममता कार्ड प्रस्तुत होना चाहिए

बालिका की उम्र 5 वर्ष पूर्ण होने पर तथा स्कूल में प्रवेश लेने पर योजना का तीसरा आर्थिक लाभ दे होगा इसके अतिरिक्त बालिका की मां 3100 प्राप्त होगी यह लाभ योजना 1 अप्रैल 2018 से शुरू है इस प्रकार कुल 7300 इस योजना में प्राप्त हैं

1.कविराजा श्यामलदास, गौरीशंकर हीराचन्द ओझा, मुंशी देवी प्रसाद, रामकरण आसोपा (kaviraja shiyamaldhas, gorisankar hirachand oja, munshi devi parsad)

2.राजस्थान का प्राचीन इतिहास (rajasthan ka parachin itihas)

3.मथुरा मानमोरी का शिलालेख (mathura manmori ka shilalekh)

Leave a Comment